[ad_1]






इस्लामाबाद

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का वाइट हाउस से बाहर जाना तय माना जा रहा है। इन चुनावों पर दुनियाभर की नजरें थीं और इनके सहारे दूसरे नेता भी एक-दूसरे पर निशाना साध रहे हैं। हालांकि, इसके चक्कर में इस्लामाबाद में अमेरिकी दूतावास ने एक ऐसा ट्वीट कर डाला जिससे बवाल खड़ा हो गया।

दरअसल, दूतावास ने रीट्वीट किया था जिसमें डोनाल्ड ट्रंप की हार के बहाने पाकिस्तान की इमरान सरकार पर निशाना साधा गया था। पाकिस्तानी सांसद अहसान इकबाल ने डोनाल्ड ट्रंप की हार पर ट्वीट किया था और कैप्शन में लिखा था- ‘पाकिस्तान में भी एक है। उन्हें भी जल्द ही बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा।’ इस ट्वीट को अमेरिकी दूतावास क अकाउंट से रीट्वीट किया गया।

इस पर विवाद होने के बाद दूतावास ने दावा किया कि किसी ने अनाधिकृत रूप से अकाउंट का इस्तेमाल किया और राजनीतिक ट्वीट किया जो दूतावास की नीति के खिलाफ है। दूतावास ने ट्वीट किया- ‘पिछली रात बिना अधिकार दूतावास के ट्विटर अकाउंट का इस्तेमाल किया गया। दूतावास राजनीतिक संदेशों को पोस्ट करने या रीट्वीट करने को बढ़ावा नहीं देता है। इसकी वजह से पैदा हुई किसी तरह की कन्फ्यूजन के लिए माफी।’





Check Also



काबुल अफगानिस्तान में सरकार के साथ शांति समझौते के बावजूद तालिबान का आतंक रुकने का …