कांग्रेस नेता अलका लांबा के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर लखनऊ की हजरतगंज कोतवाली में एफआईआर दर्ज कराई गई है।

उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किए गए वीडियो में मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए जजों की प्रतिष्ठा पर भी सवाल उठाए थे। जिस पर राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य डॉ. प्रीती वर्मा की तहरीर पर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।
एसीपी हजरतगंज अभय कुमार मिश्रा ने कहा कि मामले की छानबीन की जा रही है।
बता दें कि अलका लांबा भाजपा पर लगातार हमलावर हैं। एफआईआर दर्ज होने पर उन्होंने प्रतिक्रिया देते हुए हैशटैग भाजपा से सवाल करो के साथ ट्वीट किया कि जवाब मिलने तक बवाल करो।