उच्चतम न्यायालय सोमवार को उन याचिकाओं पर सुनवाई करेगा जिसमें दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात द्वारा आयोजित धार्मिक आयोजन में शामिल होने वाले विदेशियों को ब्लैकलिस्ट (काली सूची में डालना) किया गया है। ऐसे में हम आपको बताते हैं कि ब्लैकलिस्ट क्या होता है।

ब्लैकलिस्ट उन सभी भारतीय और विदेशी नागरिकों के नामों का संकलन है, जिनके खिलाफ गृह मंत्रालय (एमएचए) द्वारा जारी लुक आउट सर्कुलर (एलओसी) जारी किया जाता है। विदेश मंत्रालय के विदेश विभाग द्वारा तैयार की गई सूची को सभी भारतीय राजनयिक मिशनों के साथ-साथ भारत के अंदर सभी आव्रजन चेक-प्वाइंट के साथ साझा किया जाता है ताकि कुछ व्यक्तियों के देश से बाहर निकलने या प्रवेश को रोका जा सके। जो या तो उनकी व्यक्तिगत क्षमता की वजह से या उनके किसी संगठन से जुड़े होने की वजह से होता है।