आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (एबी-पीएमजेएवाई) के तहत डेढ़ महीने पहले इसके लाभार्थियों के लिए कोरोना वायरस के इलाज को मुफ्त कर दिया गया। इसके बाद से इस योजना के तहत दो हजार लोगों का कोरोना का इलाज किया जा चुका है या इलाज चल रहा है।

हाल ही में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे दुनिया की सबसे बड़ी सार्वजनिक स्वास्थ्य बीमा योजना बताया था। वहीं, सितंबर 2018 में इसके लॉन्च के बाद से, एबी-पीएमजेएवाई के तहत एक करोड़ लोगों ने इसकी सुविधा का लाभ उठाया है। इस योजना के तहत, तीन हजार लोगों की कोविड-19 जांच की गई है।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) ने बुधवार को कहा कि एनएचए ने कोविड-19 रोगियों के इलाज के लिए पिछले एक महीने में एबी-पीएमजेएवाई के तहत लगभग 1,500 से अधिक अस्पतालों को सूचीबद्ध किया है।