नई दिल्ली : कोरोना संक्रमण की लहर देश के कुछ राज्यों में भले हल्की हुई हो लेकिन अभी भी तीसरी लहर का खतरा मंडरा रहा है। हालाँकि कुक दिनों से संक्रमण के मामलों में गिरावट दर्ज हो रही है जिसके चलते बीते दिन सोमवार के मुकाबले,आज मंगलवार को 1800 से कम कोरोना के मामले सामने निकले हैं। लेकिन मृतकों की संख्या ने अब चिंता बड़ा दी है। आपको बतादें कि स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक़, आज (मंगलवार) को 24 घंटे में कोरोना के 25,404 नए मामले दर्ज हुए हैं। जबकि 339 संक्रमितों की मौत हो गई। वहीं, 37,127 मरीज इस बीमारी को मात देकर घर लौट गए। कोरोना केस में आ रही गिरावट से हालात सामान्य हो रहे हैं। हालांकि, केरल में कोरोना का आंकड़ा अब भी चिंता को बढ़ा रहा है। वहां हर दिन मालों में इजाफा हो रहा है। 

सोमवार को बीते 24 घंटे में कोरोना के 27,254 मामले दर्ज हुए हैं। जबकि 219 संक्रमितों की मौत हुई है।  वहीं, 37,687 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं और सुरक्षित घर लौटे हैं।  कोरोना वायरस से बचाव के लिए टीकाकरण एक बड़ी भूमिका निभा रहा है। टीका लेने वाले लोगों में कोरोना संक्रमण फैलने की आशंका कम होती दिख भी रही है। 
देश के छह राज्यों में कोरोना की पहली खुराक का वैक्सीनेशन अभियान 100 फीसदी पूरा कर लिया गया है। पिछले महीने हिमाचल प्रदेश को सबसे पहले यह कामयाबी हांसिल की जिसपर देश के  बधाई दी थी और अब इस सूची में पांच और राज्यों के नाम शामिल हो गए हैं। इन सभी छह राज्यों में कोरोना की पहली खुराक का 100 फीसदी टीकाकरण संपन्न हुआ है। आपको बतादें देश के दोबारा हालत बिगड़ने का खतरा अभी भी केरल से आने की समभावना है,केरल में 24 घंटों में 15,058 नए कोरोना के मामले आए हैं। इस दौरान 28,439 कोरोना के मरीज ठीक हुए थे और 99 लोगों की संक्रमण से मौत हुई। आपको बतादें केरल मैं बिगड़े हालातों के मद्देनज़र गोवा ने केरल से आने वाले यात्रियों के लिए पांच दिन का क्वारंटीन होने का आदेश दिया है। रविवार को जारी एक अधिसूचना में, गोवा प्रशासन ने जारी राज्यव्यापी कर्फ्यू को भी 20 सितंबर तक बढ़ा दिया है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here