सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (सीएमआईई) की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा कि इस साल जून में राज्य की बेरोजगारी दर 6.5 प्रतिशत रही। उन्होंने कहा कि यह दर देश की 11 प्रतिशत के मुकाबले कहीं बेहतर हैं।

बनर्जी ने कहा कि ऐसा उनकी सरकार द्वारा कोविड-19 संकट और चक्रवात अम्फान के कारण हुई तबाही से निपटने के लिए अपनाई गई आर्थिक रणनीति के कारण हुआ है।
बनर्जी ने ट्वीट कर कहा, ‘हमने कोविड-19 और अम्फान की तबाही से निपटने के लिए एक मजबूत आर्थिक रणनीति लागू की है। इसका प्रमाण पश्चिम बंगाल की बेरोजगारी दर में है जो जून 2020 तक 6.5 प्रतिशत रही जोकि भारत के 11 प्रतिशत की तुलना में कहीं बेहतर है। सीएमआईई के अनुसार यूपी में बेरोजगारी दर 9.6 प्रतिशत और हरियाणा 33.6 प्रतिशत रही।’