मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में विदेश मंत्री का कार्यभार संभालने वाली भाजपा की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज को आज पूरा देश पहली पुण्यतिथि पर याद कर रहा है। उनके पति स्वराज कौशल और बेटी बांसुरी स्वराज ने उन्हें याद करते हुए ट्विटर पर भावुक संदेश लिखे। वहीं उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सैयद अकबरुद्दीन ने भी उन्हें याद किया।

उप राष्ट्रपति नायडू ने लिखा, ‘मैं अभी भी इस तथ्य को मानने में असमर्थ हूं कि उन्हें स्वर्ग गए एक साल का समय बीत गया है। वह मेरी प्रिय बहन थी, जो हर रक्षा बंधन पर मुझे राखी बांधने के लिए हमारे घर आती थी। सुषमा जी की भाषा और भाषणों के  हम सभी मुरीद रहे। भाषा की शुद्धता, शब्दों का चयन, विचारों में निष्ठा, अकाट्य तर्क और तथ्य, उनको एक लोकप्रिय वक्ता बना देते थे।’
उन्होंने आगे कहा, ‘सुषमा जी की हिंदी सुनने और सभी के समझने लायक होती थी। उनके शब्दों का चयन प्रायः शुद्ध होता था फिर भी उनका भाषण इतना सहज और सरल लगता था कि श्रोता मंत्र मुग्ध हो कर सुनते थे। संस्कृत के प्रति उनका विशेष आग्रह होता, वे अपनी शपथ संस्कृत में ही लेती थी।

D