देश में जारी कोरोना वायरस के संकट से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को लगातार दूसरे दिन राज्यों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात करेंगे। इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी हिस्सा लेंगे। प्रधानमंत्री दोपहर तीन बजे महाराष्ट्र, तमिलनाडु और दिल्ली समेत सबसे ज्यादा प्रभावित 15 राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों के साथ चर्चा करेंगे।

न्यूज एजेंसी के सूत्रों के अनुसार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी खुद बैठक में शामिल होने की बजाय किसी अधिकारी को इसमें शामिल होने के लिए भेज सकती हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि आज की चर्चा में जिन मुख्यमंत्रियों को बोलने का मौका मिलेगा उनमें ममता बनर्जी का नाम नहीं है।
पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री पार्था चटर्जी ने कहा है कि ममता बनर्जी को बोलने का मौका न देकर केंद्र सरकार ने एक बार फिर बंगाल के लोगों का अपमान किया है। वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए विचार विमर्श करना बेतुका है यदि आप मुख्यमंत्रियों को उनकी चिंता जाहिर करने की अनुमति नहीं देते हैं।