[ad_1]

नई दिल्ली,

बिहार विधानसभा चुनाव में NDA को मिली जीत पर बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. अपने संबोधन में पीएम ने कहा कि बिहार में विकास के कार्यों की जीत हुई है. बिहार में सच जीता है, विश्वास जीता है. ये बिहार की आकांक्षाओं की जीत है, बिहार के गौरव की जीत है. हम नीतीश कुमार के नेतृत्व में कोई कसर बाकी नहीं रखेंगे.

पीएम ने कहा कि आज देश भारतीय जनता पार्टी पर जो स्नेह दिखा रहा है, एनडीए पर जो स्नेह दिखा रहा है, उसकी सबसे बड़ी वजह यही है कि हमने विकास को अपना सर्वोपरि लक्ष्य बनाया हुआ है. हम हर वो काम करेंगे जो देश को आगे ले जाए.पीएम ने कहा कि देश का विकास, राज्य का विकास, आज सबसे बड़ी कसौटी है और आने वाले समय में भी यही चुनाव का आधार रहने वाला है. जो लोग ये नहीं समझ रहे, इस बार भी उनकी जगह-जगह जमानत जब्त हो गई है.

बंगाल-केरल पर निशाना
पीएम मोदी ने बिना नाम लिए बंगाल-केरल में हो रही हिंसा पर राज्य सरकारों को नसीहत दी. पीएम ने कहा कि कि मौत के खेल से मत नहीं मिलेंगे. पीएम ने कहा कि देश के कुछ हिस्सों में उनको लगता है कि बीजेपी के कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतार कर वे अपने मनसूबे पूरे कर लेंगे. मैं उन सभी को आग्रह पूर्वक समझाने का प्रयास भी करता हूं. मुझे चेतावनी देने की जरूरत नहीं है, वो काम जनता-जनार्दन करेगी. पीएम ने कहा कि चुनाव आते हैं, जाते हैं. जय-पराजय का खेल होता रहा है. कभी ये बैठैगा, कभी वो बैठेगा, लेकिन ये मौत का खेल लोकतंत्र में कभी नहीं चल सकता है. हम लोकतंत्र को समर्पित हैं. देश ने हम पर जो भरोसा रखा है, उस भरोसे को पूर्ण करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं.