राजस्थान में 18 महीने पुरानी अशोक गहलोत सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री के खिलाफ बगावत कर दी है। वे सोमवार को विधायक दल की बैठक में शामिल होने के लिए नहीं पहुंचे। इसी बीच प्रियंका गांधी वाड्रा अशोक गहलोत और सचिन पायलट के साथ बातचीत करके प्रदेश के राजनीतिक संकट को दूर करने की कोशिश कर रही हैं। वहीं मुख्यमंत्री आवास पर मौजूद 100 से ज्यादा विधायकों ने मीडिया के सामने विक्ट्री साइन दिखाया। कांग्रेस का दावा है कि उसके पास 109 विधायकों का समर्थन है। इसके अलावा रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पार्टी सचिन पायलट के संपर्क में है और उन्हें मनाने की कोशिश की जा रही हैं।

प्रियंका गांधी वाड्रा राजस्थान विवाद में मध्यस्थता करवा रही हैं। प्रियंका ने अशोक गहलोत और सचिन पायलट से बात की है। इससे पहले राहुल ने बात करके मनाने की कोशिश की थी।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, कांग्रेस नेताओं और पार्टी विधायक जयपुर में मुख्यमंत्री के आवास पर इकट्ठा हुए और उन्होंने जीत का संकेत दिया।