ये हम सभी जानतें है कि ऑनलाइन शॉपिंग अब अधिकतर ग्राहकों की पहली पसंद बनती जा रही है। लेकिन जब भी हम ऑनलाइन शॉपिंग करते है उस प्रोडक्ट से जुड़े लोगो के फ़ीडबैक्स हम जरूर देखते हैं ताकि सही और ग़लत प्रोडक्ट का सही सुझाव मिल सके। लेकिन ज़रा सोचिए अगर किसी साइट पर वो कॉमेंट्स और रिव्यू ही ग़लत और फेक फर्जी पड़े हो तो आपके साथ भी धोखा हो सकता है। इसी कड़ी में अमेजन ने इस फर्जी रेटिंग और रिव्यूज के रैकेट को खत्म करने के लिए 600 चाइनीज ब्रांड्स को अपने प्लेटफॉर्म पर बैन कर दिया है। इतना ही नहीं इसके अलावा 3,000 मर्चेंट अकाउंट पर भी रोक लग गई है। अमेजन ने कहा है कि यह कार्रवाई फेक रिव्यूज और पॉलिसी को नज़रअंदाज़ करने पर की गई है। 
अमेजन ने इस मुद्दे पर कार्यवाही में चीन को निशाने पर लेकर नहीं की गई है, बल्कि फर्जी रिव्यूज और रेटिंग के खिलाफ यह कार्रवाई की गई है। अमेजन का इस मामले पर ये भी कहना है कि इससे ब्रांड को नुकसान नहीं होगा, बल्कि इसका एक फायदा हमें होगा कि अन्य ब्रांड अपने प्रोडक्ट का फेक रिव्यू और रेटिंग कराने से सतर्क हो जाएंगें। अमेजन ने इससे पूर्व भी 2016 में प्रोत्साहन वाले रिव्यू पर बैन किया था। अमेजन इस तरह के अभियान चलाकर पॉलिसी उल्लंघन करने और फर्जी रिव्यू के साथ अपने प्रोडक्ट की रेटिंग बढ़ाने वाले ब्रांड्स पर कार्रवाई करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here