आजमगढ़। समाजवादी पार्टी के आह्वान पर मंगलवार को पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्यवृद्धि, महंगाई, प्रवासी मजदूरों और किसानों की समस्याओं को लेकर तहसील मुख्यालयों पर प्रदर्शन किया गया। राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन एसडीएम को दिया गया।

वक्ताओं ने कहा कि डीजल, पेट्रोल, व गैस के दामों में वृद्धि से आवश्यक वस्तुओं के दाम और किसानों के उपयोग में आने वाली खाद व रासायनिक सामान महंगे हो गए हैं। गन्ना किसानों का कई हजार करोड़ का भुगतान नहीं किया गया है। लॉकडाउन से किसान बेहाल हो गए। विद्युत व्यवस्था चरमरा गई है। घरेलू व किसानी में उपयोग होने वाली विद्युत दर दोगुनी हो गई है। मांग की कि डीजल व पेट्रोल के दामों में की गई बढ़ोत्तरी को वापस लिया जाए। घरेलू व ट्यूबवेेल की बढ़ी हुई विद्युत दरों को घटाने, यूरिया खाद के दामों में हुई वृद्धि को घटाने, गैस के दामों की वृद्धि को वापस लेने की मांग की। इसी तरह प्रवासी व अन्य मजदूरों और गरीबों को काम व रोजगार मुहैया कराया जाए। गोपालपुर विधायक नफीस अहमद ने एसडीएम सगड़ी को ज्ञापन सौंपा। डा. हरिराम सिंह यादव, जयराम सिंह पटेल, मिर्जा मसूद बेग आदि थे। मेंहनगर में एसडीएम राजीव रत्न सिंह को ज्ञापन देकर विरोध दर्ज कराया।