आजमगढ़। मानसून के दस्तक देते ही हर किसी को खुशियों से सराबोर कर दिया है। गर्मी और धूप से मुरझाए पौधों में हरियाली लौट आई है। बारिश से किसान सबसे ज्यादा खुश है। उन्हें अपनी धान की नर्सरी को जैसे संजीवनी मिल गई है। गुरुवार को पूरे दिन रुक रुककर हुई बारिश से वह खेती किसानी के कार्य में तेजी से जुट गए हैं।

विगत कई वर्षों तक मानसून ने किसानों को धोखा दिया। लेकिन इस बार मानसून ने आते ही अच्छी बारिश होने की संभावनाओं को मजबूत कर दिया है। किसान तेजी से अपने खेतों को तैयार करने में जुटे हैं ताकि धान की रोपाई का कार्य समय से पूरा कर सकें। वहीं गुरुवार को हुई बारिश ने नगरपालिका के दावों की पोल खोल दी। जगह-जगह हुए जल-जमाव लोगों को परेशान किया। मेजवां प्रतिनिधि के अनुसार फूलपुर और ग्रामीण इलाकों में गुरुवार को दिन में एक घंटा से अधिक लगातार हुई झमाझम बारिश से जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया। चारों ओर पानी ही पानी नजर आने लगा। फूलपुर नगर में जल निकासी की अच्छी व्यवस्था न होने से सड़कों से होकर पानी गुजरने लगा। लगातार तेज बारिश होने से जिले की लगभग छोटी बड़ी सभी नदियों में पानी दिखने लगा।

Download Amar Ujala App for Breaking News in Hindi & Live Updates. https://www.amarujala.com/channels/downloads?tm_source=text_share