राजस्थान में सियासी संग्राम जारी है। एक तरफ बागी विधायक स्पीकर के फैसले के खिलाफ राजस्थान उच्च न्यायालय में लड़ाई लड़ रहे हैं वहीं अदालत के बाहर जुबानी जंग जारी है। इसी बीच मंगलवार को मुख्यमंत्री ने विधायक दल की बैठक बुलाई है। वहीं सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने पूर्व उपमुख्यमंत्री पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने पायलट को नकारा, निकम्मा और लड़ाने वाला बताया। इसके जवाब में पायलट ने कहा कि उनकी छवि खराब करने की कोशिश की जा रही है। उच्च न्यायालय में सुनवाई शुरू हो गई है। विधानसभाध्यक्ष द्वारा बागी विधायकों को जारी किए गए नोटिस का आज आखिरी दिन है।

राजस्थान उच्च न्यायालय में पायलट गुट की याचिका पर सुनवाई पूरी हो गई है। दोपहर दो बजे के बाद अदालत इसपर फैसला सुना सकती है।