भारत के 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लालकिले की प्राचीर से देश को संबोधित किया। पीएम लालकिले से लगातार सातवीं बार तिरंगा ध्वज फहराने के बाद देशवासियों को संबोधित किया। पीएम मोदी सातवीं बार ध्वजारोहण करने वाले चौथे प्रधानमंत्री बन गए हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत में क्रांतिकारी महर्षि अरविंद घोष की उनकी जयंती पर याद किया।
पीएम ने कहा कि भारत के उज्जवल भविष्य को कोरोना ने रोका हुआ है
कोरोना योद्धाओं ने सेवा परमो धर्म: मंत्र को जीत कर दिखाया है, उन्हें मैं नमन करता हूं
अपने जीवन की परवाह किए बिना हमारे डॉक्टर्स, नर्सें, पैरामेडिकल स्टाफ, एंबुलेंस कर्मी, सफाई कर्मचारी, पुलिसकर्मी, सेवाकर्मी, अनेकों लोग, चौबीसों घंटे लगातार काम कर रहे हैं।
बाढ़ का प्रकोप, लैंडस्लाइड में जान गंवाने वालों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं
कोरोना और बाढ़ पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं