कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन के दौरान महिलाओं के खिलाफ घरेलू हिंसा के मामलों में बढ़ोतरी के दावे को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने खारिज किया है। इस मामले में केंद्रीय मंत्री से पूछा गया था कि लॉकडाउन के कारण घरेलू हिंसा के मामले बढ़ गए हैं और महिलाएं इसके खिलाफ मामला दर्ज कराने में सक्षम नहीं हैं। इसके जवाब में उन्होंने कहा, यह गलत है। प्रत्येक राज्य में पुलिस कार्यरत है। हर राज्य के प्रत्येक जिले में एक स्टॉप क्राइसिस सेंटर है।

उन्होंने आगे कहा, मैं उन महिलाओं के नाम और पहचान नहीं जाहिर करूंगी जिन्हें हमने बचाया है। हर राज्य और जिले में उन पीड़ितों के राहत पुनर्वास का विवरण मौजूद है।