अभी तक प्रवासी मजदूर ट्रक से लटकते, पैदल, साइकिल चलाकर या फिर बस-ट्रेन के जरिए अपने घर जा रहे थे लेकिन अब उन्हें विमान के जरिए पहुंचाया जा रहा है। प्रवासियों को लेकर एक विमान मुंबई से रांची के लिए रवाना हुआ है। एनजीओ की मदद से प्रवासियों को हवाई अड्डे तक पहुंचाया गया। जब रांची में यह विमान उतरेगा तब खुद श्रम मंत्री वहां मौजूद होंगे।

मुंबई अतंरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सुबह दो बजे ही 177 प्रवासी मजदूरों की लाइन लग गई। ये सभी सुबह छह बजे एयर एशिया के विमान से उड़ान भरने के लिए पहुंचे। बंगलूरू कानून विद्यालय एलुमनाई एसोसिएशन की प्रियंका रमन इस चीज को सुनिश्चित कर रही थीं कि हर कोई हवाई अड्डे पहुंचा या नहीं।
इस कानून विद्यालय के पूर्व छात्रों के संघ ने कुछ एनजीओ के साथ मिलकर न केवल मुंबई के विभिन्न हिस्सों में मौजूद प्रवासियों को इकट्ठा किया बल्कि उनके हवाई टिकट की व्यवस्था भी की। प्रियंका ने बताया कि हम जानते थे कि रांची के कई प्रवासी हैं जो अपने घर वापस जाना चाहते हैं। इसलिए हमने कोशिश करके उन्हें वापस भेजने का फैसला किया।