अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के कथित आत्महत्या मामले में अब तक हुई मुंबई पुलिस की छानबीन पर भी सवाल उठने लगे हैं। बिहार सरकार के एडवोकेट जनरल ललित किशोर ने आरोप लगाया है कि बिहार पुलिस की छानबीन में मुंबई पुलिस सहयोग नहीं कर रही है। बिहार पुलिस ने शुक्रवार को अपने ही दम पर सुशांत के खानसामा से पूछताछ की है और उससे पुलिस को कुछ नई चीजें पता चली हैं।

ललित ने मुंबई पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा, ‘जब एक राज्य की पुलिस दूसरे राज्य में जांच करने जाती है तो संबंधित राज्य और उनके अधिकारी पूरा सहयोग देते हैं। लेकिन, इस केस में ऐसा नहीं हो रहा है।’ दरअसल, पुलिस सूत्रों के हवाले से मीडिया को खबर मिली है कि बिहार से आए चार पुलिस अधिकारी अपने दम पर ही छानबीन करने में जुटे हुए हैं। वह सुशांत के बैंक खातों की जानकारी के लिए खुद ही गए। मुंबई पुलिस से उन्हें कोई मदद नहीं मिली।

नीरज मई 2019 सुशांत के साथ काम कर रहा था। नीरज ने बताया है कि जब अक्टूबर 2019 में सुशांत रिया चक्रवर्ती के साथ ही यूरोप गए थे, तब ठीक ठाक थे। लेकिन, जब वह दिवाली के आसपास वापस लौटे तो वह अच्छा महसूस नहीं कर रहे थे। वह लगातार किसी तरह की बीमारी का शिकार हो रहे थे। दिवाली के बाद सुशांत अपना घर छोड़कर रिया के साथ उनके घर में रहने लगे। फिर बाद में ये दोनों बांद्रा वाले घर में शिफ्ट हो गए।