महामारी के कारण ऑटोमोबाइल उद्योग बुरी तरह प्रभावित हुआ है। मार्च के आखिरी हफ्ते से लागू लॉकडाउन के कारण वाहनों की बिक्री पर बहुत बुरा असर पड़ा है। भारत में ऑटोमोबाइल जगत के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ कि अप्रैल में एक भी कार की बिक्री नहीं हुई थी। अब Society of Indian Automobile Manufacturers (SIAM), सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) के आकड़ें बता रहे हैं कि यह लगातार नौवीं तिमाही से है जब वाहनों की बिक्री में गिरावट दर्ज की गई है।

Covid-19 महामारी से प्रभावित बाजार में चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही (अप्रैल – जून 2020) में यात्री वाहनों की बिक्री 78.43 फीसदी घटी है। वाहन उद्योग के संगठन सियाम ने मंगलवार को यह जानकारी देते हुए कहा पिछले 20 साल में उद्योग में मंदी का यह सबसे लंबा दौर है।

सियाम के मुताबिक वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री में 84.81 फीसदी की गिरावट आई है। वाणिज्यिक वाहनों के मामले में गिरावट की यह लगातार पांचवीं तिमाही रही है। इस सेगमेंट में भी पिछले 15 साल में इतनी लंबी सुस्ती कभी नहीं देखी गई।