डिजिटल इंडिया के पांच साल पूरे होने के मौके पर सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने डिजिटल इंडिया के लिए काम कर रहे स्टार्टअप्स को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में गूगल प्ले-स्टोर और एप स्टोर से एप बहुत डाउनलोड होते हैं, लेकिन अब एप अपलोड करने का वक्त आ गया है, हालांकि भारतीय कंपनियां पिछले कई महीनों से इस मुद्दे पर काम कर रही हैं।

चीन के साथ सीमा-विवाद के बाद सरकार ने 59 चाइनीज एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है। प्रतिबंध के बाद एक के बाद एक मेड इन इंडिया मोबाइल एप की बाढ़ आ गई है। सोशल मीडिया एप शेयरचैट ने अब टिकटॉक की तरह ही अपना एक नया एप मोज (Moj) लॉन्च किया है।